Featured Posts

[Travel][feat1]

BMI क्या है | BMI कैसे मापते है | बीएमआई कैलकुलेटर chart क्या होता है -

May 18, 2019
BMI (Body Mass Index) अर्थात शरीर द्रव्यमान सूचकांक एक प्रकार का पैमाना जो ये बताता है कि शरीर का भार उसकी लंबाई के अनुपात में ठीक है या नहीं अर्थात समान्य है या नही .भारतीयों के लिए उनका बीएमआई 22.1 से ज्यादा नही होना चाहिए . किसी व्यस्क व्यक्ति के शरीर का अपेक्षित भार उसकी लंबाई के अनुसार होना चाहिए, जिससे उसके शारीर का आकार सामान्य लगे.

BMI क्या है | BMI कैसे मापते है


BMI Level से आप अपना वजन चेक कर सकते है की यह आपकी लम्बाई के हिसाब से सही है या नही . जिससे आपको पता चल जाता है की आप मोटे है या नही . यदि आप अपना वजन घटाना चाह रहे है तो उस स्थिति में भी यह आपके लिए फायेदेमंद साबित हो सकता है क्यूंकि इससे आपको पता चलता है की आपका वजन सामान्य से कितना अधिक है और आपको कितना वजन कम करने की आवश्यकता है.

BMI  कैसे मापते है ?

BMI निकालने के  लिए किसी व्यक्ति की लंबाई को दुगुना कर उससे भार किलोग्राम को भाग दिया जाता है.
जब आप किसी BMI कैलकुलेटर से अपना BMI लेवल चेक करते है तो वहां पर आपसे आपका Gender और Age भी पूछी जाती है लेकिन BMI level उम्र और लिंग पर निर्भर नही करता है .

BMI Formula's = Weight in kilograms / (Height in meters)²

बीएमआई कैलकुलेटर chart क्या होता है -

BMI कैलकुलेटर चार्ट एक प्रकार का पैमाना होता है जिससे पता चलता है की आपका वजन किस श्रेणी में आता है - नीचे आप इसे देख सकते है -
  • 18.5 से कम →  सामान्य से कम वज़न (Underweight).
  • 18.5 – 24.9 → सामान्य (Normal Weight).
  • 25 – 29.9   → सामान्य से अधिक वज़न (Over Weight).
  • 30 – 34.9   → मोटापा (Obese)
  • 35 – अधिक   → अति मोटापा (Over Obesity).
 👉 इसे भी पढ़े - इंडियन फ़ूड कैलोरी चार्ट (Indian Food Calorie Chart In Hindi) -

सामान्य (Normal)  BMI level के Benefits (लाभ) क्या क्या है -

यदि आपका BMI लेवल (18.5 से 24.9) के बीच है तो इसका मतलब है की आपके शरीर की लम्बाई के अनुपात में आपका वजन बिलकूल सही है अर्थात समान्य वजन है . यदि आपका वजन इस श्रेणी में है तो आपके इसके बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ मिलेंगे जैसे -
  • आपको शुगर (मधुमेह) होने की सम्भावना बहुत कम है .
  • उच्च रक्तचाप होने का खतरा भी कम हो जाता है .
  • ह्रदय सम्बन्धी रोग होने का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है .
  • जोड़ो का दर्द से बचाव.
  • आलस , थकान में कमी .
  • प्रजनन क्षमता में वृद्धि.
यदि आपका BMI लेवल 24.9 से अधिक है और सामान्य नही है तो अपना वजन घटाने की कोसिस करे . नियमित व्यायाम करे . अच्छा पोष्टिक भोजन ग्रहण करे . तनाव मुक्त रहे . कम से कम 7 से 8 घंटे की नींद ले .

आशा करता हु मेरे द्वारा दी गयी जानकारी "BMI क्या है , BMI कैसे मापते है" आपके लिए उपयोगी सिद्ध हुई होगी. हमें कमेंट करके बताये . हो सके तो इस पोस्ट को शेयर जरूर करे -

Health (स्वास्थ्य) सम्बधि हमारे अन्य लेख अवश्य पढ़े 👇



      BMI क्या है | BMI कैसे मापते है | बीएमआई कैलकुलेटर chart क्या होता है - BMI क्या है | BMI कैसे मापते है | बीएमआई कैलकुलेटर chart क्या होता है - Reviewed by Virendra Singh on May 18, 2019 Rating: 5

      Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा - My Real Story

      May 09, 2019
      नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका Upyogijankari.com पर  आज इस पोस्ट के माध्यम से मै आपके साथ अपना पर्सनल अनुभव शेयर करने जा रहा हु की मुझे  Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा ? . दोस्तों आजकल हमारे देश में ऑनलाइन पैसे कमाने का क्रेज़ बढ़ रहा है . रोज नए - नए ब्लॉगर / Youtuber आ रहे है और इन्टरनेट से ऑनलाइन पैसे कमाने के लिए कड़ी मेहनत भी कर रहे है जिनमे से कुछ लोग कामयाब भी हो रहे है और कुछ लोग सफल नही हो पा रहे . जब से देश में JIO आया तब से हमारे यहाँ इन्टरनेट क्रांति आ गयी है .

      Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा - My Real Story


      लोग भरपूर  इन्टरनेट इस्तेमाल कर रहे है . आज हाल ये है की लोग टेलीविजन से ज्यादा इन्टरनेट पर विडियो देख रहे है . Students Online पढाई कर रहे है .  इसका यह परिणाम हुआ है की हमारे देश में  Internet पर Content Demand बढ़ गयी है खासकर हिंदी भाषा में . यहाँ पर गौर करने वाली बात यह है की इंग्लिश में Internet पर आपको बहुत   ज्यादा पहले से उपलब्ध कंटेंट मिल जायेगा . लेकिन हिंदी में नही मिलेगा  इसी उद्देश्य को पूरा करने के लिए हिंदी ब्लॉगर  के लिए बहुत अच्छा अवसर पैदा हो गया है . जिसमे बहुत से  लोग  इसमें सफल हो चुके है और Internet से बढ़िया पैसा कमा रहे है .

      यदि आप भी Internet से पैसा कमाने के लिए ब्लॉग्गिंग शुरू करना चाहते है तो आपके लिए अच्छा अवसर है . खासकर हिंदी भाषा में ब्लॉग लिख कर आप अपना कैरिअर बना सकते है . बेसक आप ऑनलाइन पैसा कमा सकते है लेकिन आपको यह बात भी ध्यान में रखनी होगी की Internet से Online पैसा कमाना इतना भी आसान नही है की ब्लॉग स्टार्ट किया और इनकम शुरू . इसमें आपको काफी समय लग सकता है - छह महीने / एक साल / दो साल ये निर्भर करता है आपकी क़ाबलियत और कड़ी मेहनत पर .

      Internet से Online पैसा कामने के लिए सबसे जरूरी है संयम (धर्य) , कड़ी मेहनत , और लगातार सीखते रहने का गुण . Google Adsense का नाम तो आपने जरूर सुना होगा हिंदी ब्लॉगर के लिए Google Adsense Earning का Main Source होता है . अक्सर करके लोगो के मन में से सवाल रहता है की Google Adsense से First Payment लेने में अधिकतम कितना समय लग सकता है . तो चलिए आज में अपना पर्सनल एक्सपीरियंस बताता हु की मुझे कितना समय लगा था पहला पेमेंट करने में -


      Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा (मेरा व्यक्तिगत अनुभव / My Personal Experience) -


      ये मेरा व्यक्तिगत अनुभव है जो में आपके साथ शेयर कर रहा हु  - कैसे मैंने ब्लॉग बनाना सिखा और कैसे उस पर Adsense का approval मिला ? , Adsense Approval मिलने में कितना समय लगा ?
      Google Adsense से पहली कमाई कितनी हुई और कितना समय लगा ? आदि -

      सबसे पहले मुझे 2015 में Blogspot के बारे में पता चला की इस पर फ्री में वेबसाइट यानि ब्लॉग बनाई जाती है . मैंने ब्लागस्पाट पर एक ब्लॉग बना दिया जिस पर में जोक्स और शायरी Publish करता था ऐसे ही Enjoyment के लिए . तब इस पर Bologspot का ही डोमेन था . फिर मुझे Custom Domain के बारे में पता चला की ब्लागस्पाट ब्लॉग पर हम कस्टम डोमेन भी लगा सकते है .

      मैंने Godady से Custum Domain खरीदकर अपने ब्लॉगर ब्लॉग पर सेट कर दिया . इसके बाद मुझे Google Adsense के बारे में पता चला . जल्दबाजी में मैंने ऑनलाइन पैसे कामने के चक्कर में Adsense के लिए apply कर दिया . जाहिर सी बात मेरे ब्लॉग पर सिर्फ 100 - 200 का ट्रैफिक था और कोई भी पेज जैसे Contact Us , About Us Page नही था जिसकी वजह से मेरा अकाउंट disapproved हो गया . मैंने दो साल तक इसी ब्लॉग पर काम किया और लगातार पोस्ट लिखता रहा हालाँकि ट्रैफिक बहुत ज्यादा आने लगा लेकिन Adsense का अप्रूवल नही मिला बार बार रिक्वेस्ट रिव्यु का Option Try किया लेकिन कोई फायदा नही हुआ .
      Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा - My Real Story


       2016 में मैंने इस ब्लॉग पर काम करना बंद कर दिया और एक दूसरा ब्लॉग शुरू कर दिया जो की Education से Related था शुरू किया दूसरी ईमेल Id से अकाउंट बनाकर .

      लगभग 4 - 5 महीने तक पोस्ट लिखता रहा और इस blog  पर कस्टम डोमेन लगा दिया . इसके बाद मैंने इस ब्लॉग पर Google Adsense के लिए Apply किया लेकिन दिक्कत ये थी वहा मुझे मेसेज दिखा रहा था की आपका अन्य ईमेल ID पर पहले से Adsense Account है इसलिए आप नया अकाउंट नही बना सकते .

        अब समस्या ये थी वो अकाउंट तो Approved ही नही था . फिर मुझे इन्टरनेट से इसका Solution भी मिल गया मैंने पहले वाले Adsense Account को cancel कर दिया और नये के लिए apply कर दिया . अबकी बार मेरा Adsense अकाउंट Fully Approved हो गया .

      Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा - My Real Story



      कसम से जब ये मेल देखा तो इतनी ख़ुशी हुई थी जितनी 10th Class का एग्जाम पास करने के टाइम हुई थी 😁😁 . मुझे मार्च 2017 में इस ब्लॉग पर Adsense का अप्रूवल मिला था . झट से मैंने ब्लॉग पर Adsense के Add लगा दिए और सोचना लगा की बस अब तो कमाई शुरू . लेकिन अफ़सोस ऐसा नही था कमाई तो हो रही थी लेकिन अपेक्षा से बहुत ही कम .

      पहले महीने लगभग $ 2 की Earning हुई थी . मै सोच रहा था ऐसे $100 होने  4 साल लग जायेंगे . इसका कारण यह था एक तो साईट पर ट्रैफिक ज्यादा नही था दूसरा Add Placement कैसे करना है , किस टाइप के ऐड लगाने है इसके बारे में नही पता था .

      स्टार्टिंग में मुझे $0.02 की CPC मिल रही थी और Page CTR भी बहुत कम 0.5 % से 1 % के बीच में रहती थी . फिर में इन सबके बारे इन्टरनेट पर सर्च करना लगा और इनके बारे बहुत कुछ जाना . हालाँकि मुझे Adsense से First Payment पाने में फिर भी बहुत जयादा समय लग गया था . मुझे लगभग 10 महीने का समय लगा पहली Payment प्राप्त करने में मुझे जनवरी 2018 में पहली पेमेंट मिली मेरे बैंक अकाउंट में  जिसमे लगभग 3% Bank Charge कट गया था . 21 जनवरी को Google की तरफ से पेमेंट भेजने का मेल मिला . 27 जनवरी को पैसा अकाउंट में ट्रान्सफर हो गया था .


      इसके बाद दूसरी पेमेंट आने में लगभग 4 महीने का समय लग . लेकिन धीरे - धीरे समय घटने लगा और Income बढ़ने लगी . मुझे याद वो दिन जिस UP Board 2018 Class 10th & 12th का Result आया था उस दिन मैंने अपने इसी ब्लॉग से $267 कमाये थे ब्लॉग 4 लाख के करीब Page View आये थे और लगभग
      8500 Click हालाँकि CPC 0.03 थी लेकिन मेरे लिए बहुत ज्यादा था . उस दिन मुझे लगा था की मेहनत काफी भी बेकार नही जाती . मेहनत का फल एक दिन जरूर मिलता है .

      इसके बाद तो मानो समय ही बदल गया अब मुझे हर महीने Adsense से पेमेंट मिलता है वो भी अच्छा खाशा. आज मेरे तीन ब्लॉग चल रहे है . सभी से इनकम हो रही है .


      आपके साथ अपना अनुभव शेयर करने का उद्देश्य बस आपको ऑनलाइन कमाई करने के लिए प्रोत्साहन करना है . आपको दी गई"Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा"जानकारी पसंद आए तो हमें कमेंट करके  बताएं .

      Read Also :


      Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा - My Real Story Google AdSense से First Payment लेने में कितना समय लगा - My Real Story Reviewed by Virendra Singh on May 09, 2019 Rating: 5

      Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आये तो क्या करे - AdSense अकाउंट कैसे बचाये

      May 08, 2019
      नमस्कार दोस्तों उपयोगीजानकारी.कॉम पर आपका स्वागत है . यहाँ पर आज हम बात करने वाले है "Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आये तो क्या करे" के बारे में . दोस्तों क्या आपको कभी Google Adsense की ओर से DMCA Page Level Violation का mail मिला है  ? यदि हाँ तो मुझे पता है आप को भी इसके बारे में  बहुत ज्यादा चिंता हुई होगी .




      क्या आप जानते है बहुत से लोगो को Google की तरफ से Page Level Violation के मेल भेजे जाते है क्यूंकि जब भी आप जाने - अनजाने में Google AdSense के द्वारा बनाये गए नियमो एवं शर्तो का उलंघन करते है तो गूगल के द्वारा आपको सुचना दी जाती है की  आपकी वेबसाइट / ब्लॉग पर Policy Violation हो रहा है .



      यदि आपकी वेबसाइट / ब्लॉग पर Google AdSense Policy का उलंघन हो रहा है तो Google को अधिकार है वह आपकी साईट से विज्ञापन हटा सकता है या आपका AdSense Account हमेशा के लिए बंद किया जा सकता है .

      दोस्तों अगर आपका Google AdSense अकाउंट पालिसी उलंघन के कारन बैन होता है तो यह आपके लिए बहुत ही बुरा अनुभव होगा . क्यूंकि हम सभी जानते है की हम Adsense अकाउंट अप्रूवल के लिए हम सभी कितनी मेहनत करते है तब कहीं जाकर अकाउंट अप्रूवल मिलता है . इसलिए आप कभी नही चाहेंगे की आपकी एक छोटी सी गलती के कारण सब कुछ बर्बाद हो जाए . सबसे पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है की आपको Google AdSense (DMCA) Page Level Violation क्यों आता है -


      वेबसाइट / ब्लॉग Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आने का क्या कारण है :


      यहाँ पर में आपको बताना चाहूँगा की Google AdSense द्वारा पब्लिशर के लिए बहुत सारे नियम बनाये है जिनका उन्हें ईमानदारी से पलान करना पड़ता है . यदि कोई भी होशियारी की तो Google को पता चल जाता है की आपने Policy Violation किया है . इन नियमो में  खास नियम भी है की आप किसी और की वेबसाइट / मैगज़ीन या कोई भी अन्य सोर्से जो की कॉपीराइट कानून के द्वारा सुरक्षित हो उस सामग्री का आप अपनी वेबसाइट / ब्लॉग पर इस्तेमाल नही कर सकते . यह गूगल की policy के खिलाफ है .

      यदि आप जाने अनजाने में इस प्रकार की गलती करते है तो जरूर आपको  Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आयेगा. यदि आपने किसी अन्य का कॉपीराइट कंटेंट अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर प्रयोग किया है और वह व्यक्ति इसकी शिकायत Google से कर देता है इसका परिणाम काफी नुकसानदायक हो सकता है जैसे - आपकी साईट Google AdSense पर बैन हो सकती है . आपका Adsense  अकाउंट भी बैन हो सकता है .
      तो यहाँ में आपको सलाह देना चाहूँगा की आप ऐसा कोई भी  कदम न उठाए जिससे आपको आगे चलकर कोई परेशानी हो.

      वेबसाइट / ब्लॉग Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आने पर Adsense Account Ban होने से कैसे बचाये , क्या करे  -

      अगर आपको कभी भी इस प्रकार का कोई मेल Google की ओर से मिले तो सबसे पहले एक काम करो बिलकूल मत घबराओ . सबसे पहले ये जानने की कोशिश करे की आपको ये मेल किस कारण से मिला है . आपके द्वारा किस policy का Violation हुआ है . यह जानने के लिए आपको अपने अद्सेंस अकाउंट में policy सेण्टर में जाना होगा जहाँ पर आपको प्रॉपर पता लगेगा की किस पेज पर Violation हुआ है . ऐसे करे चेक -
      • सबसे पहले अपने Google Adsesnse अकाउंट में लॉग इन करे .
      • Option Menu से "Account" Option पर क्लिक करे .
      • Account पर क्लिक करने के बाद "Policy Center" पर क्लिक करे .
      • यहाँ पर आपको सभी डिटेल्स मिल जाएगी आपकी वेबसाइट के किस पेज पर Policy Violation हुआ है .
      • यहाँ पर आपको पता चल जायेगा की किस पेज / पोस्ट पर आपको DMCA Page Violation हुआ है .
      • अब आपको क्या करना है - इस स्थिति में आपके पास दो विकल्प बचते है या तो आप Counter Notification भेज सकते है उस बन्दे के खिलाफ जिसने आपकी पोस्ट / पेज की शिकायत गूगल से की है .केवल उस Condition में यदि आपने कॉपीराइट कंटेंट का प्रयोग नही किया है और आपको केवल झूटी शिकायत के कारण ये मेल मिला है .
      • आपके पास दूसरा विकल्प है की आप उस पेज / पोस्ट को परमानेंटली अपनी वेबसाइट / ब्लॉग से हटा दे . यदि आपने इसे कहीं से कॉपी किया है तो . 

      Policy Center से Violation Message हटने में कितना समय लगता है ?

      जब आप अपनी साईट से Violation वाला पेज / पोस्ट डिलीट कर देते है तो बार - बार आप Policy Center पर Violation Message के हटने को लेकर चिंतित रहते है की हटेगा या नही , कितने समय में हटेगा . इस मेसेज को यहाँ से हटने में कम से कम 7 से 10 दिन का समय लगता है . कैसे कन्फर्म होगा की Violation हट चूका है -

      Google AdSense (DMCA) Page Level Violation  आये तो क्या करे


      Violation हटने के बाद आपको Policy Center कुछ इस प्रकार से दिखाई देगा .

      My Personal Experience / मेरा व्यक्तिगत अनुभव :

      यहाँ पर में आप लोगो के साथ अपना Personal Experience / व्यक्तिगत अनुभवे शेयर करने जा रहू . मेरे साथ भी ये घटना घट चुकी है मेरी एक दूसरी वेबसाइट पर मुझे Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आया था   . मेरे साथ क्या हुआ था और मैंने इस समस्या से बचने के लिए क्या क्या किया ? .

      21 मार्च 2019 को सुबह का समय था मै सुबह लगभग साथ बजे सोकर उठा ही था मैंने अपने मोबाइल पर एक ईमेल Notification देखा जैसे ही में ईमेल ID ओपन करके देखता हु तो मैंने देखा  की मुझे Google Adsense की तरफ से एक मेल मिला है जिसमे Page Level Policy Violation के बारे में  लिखा था . आपके लिए में उस मेल का स्क्रीन शॉट नीचे शेयर कर रहा हु - 

      ये मेरे लिए बिलकूल नई चीज थी . जब मैंने ये पूरा मेल पढ़ा तो में बहुत ज्यादा घबरा गया था . मुझे लग रहा था की जरूर मैंने कुछ ऐसा कर दिया जिसकी वजह से मेरा Adsense अकाउंट बंद जो जायेगा . मुझे कुछ भी समझ में नही आ रहा था की क्या करना है .

      मैंने ईमेल में दिए गए इंस्ट्रक्शन पढ़ लिए और मैंने पता लगा लिया था जिस पोस्ट की वजह से मुझे ये Violation का मेल मिला है .  फिर मैंने इन्टरनेट पर सर्च करना शुरू कर दिया . Youtube पर भी सर्च किया लेकिन प्रॉपर जानकारी नही मिली .

      मैंने कई सारे ब्लॉगर से भी सम्पर्क किया जिन्होंने मेरी सहायता तो की लेकिन मेरी समस्या का पूर्ण समाधान नही हुआ . फिर मैंने अपने तरीके से काम किया और उस पेज को डिलीट कर दिया . साईट में और भी जितने Doubtful Content था सब डिलीट कर दिया . हालाँकि इसका मुझे काफी लोस हुआ क्यूंकि जो पोस्ट मैंने डिलीट किये थे उन पर मुझे साईट पर  काफी ट्रैफिक मिलता था .

      सभी पोस्ट डिलीट करने के बाद मैंने "Policy Center" पर चेक किया लेकिन Violation नही हटा . लगातार कई दिन तक मै "Policy Center" पर चेक करता रहा लेकिन Violation नही हटा . मैंने बिलकूल हार मान ली थी की अब मेरा अकाउंट नही बचेगा . और मुझे ये काम बंद कर देना चाहिये . और कुछ और काम करना शुरू कर देना चाहिये .

      फिर अचानक एक दिन लगभग 31 मार्च को मैंने ऐसे ही Adsense Account लॉग इन किया और "Policy Center" पर चेक किया लेकिन इस बार  Violation हट चूका था . तब जाकर कहीं मैंने राहत की साँस ली . और मैंने सोच लिया था की आज के बाद कभी भी भूल से भी Google Adsense की Policy Violate नही करूंगा . क्यूंकि Google कभी भी हमारे साथ चीटिंग नही करता और हमें Time पर पुरे पैसे भेजता है . इसलिए हमें भी ईमानदारी से Google AdSense के साथ काम करना चाहिए .

      आशा करता हु मेरे द्वारा दी गयी जानकारी "Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आये तो क्या करे" आपके लिए उपयोगी सिद्ध हुई होगी. हमें कमेंट करके बताये . हो सके तो इस पोस्ट को शेयर जरूर करे -


      Read Also :

      Google AdSense (DMCA) Page Level Violation आये तो क्या करे - AdSense अकाउंट कैसे बचाये Google AdSense (DMCA) Page Level Violation  आये तो क्या करे - AdSense अकाउंट कैसे बचाये Reviewed by Virendra Singh on May 08, 2019 Rating: 5

      जाने काजू खाने का सही तरीका , फायदे एवं गुण | Kashews Benefit And Nutrition In Hindi -

      April 21, 2019
      ड्राई फ्रूट यानी (सूखे मेवे) हमारी सेहत के लिए अच्छे होते है क्यूंकि इनमे भरपूर मात्रा में बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे शरीर के पोषण व प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी होते है . आप ड्राई फ्रूट्स के रूप में बहुत सारे फ़ूड जैसे (बादाम , काजू , पिस्ता , अखरोट) आदि खाते होंगे . लेकिन क्या आप इनके सभी फायदे जानते है की इन फूड्स को खाने से आपको क्या क्या लाभ होता है और इन्हें किस प्रकार से खाना चाहिए और कितने मात्रा में खाना चाहिए . 
      Kashews Benefit And Nutrition In Hindi


      आज इसी क्रम में हम काजू  यानि (Kashew) के बारे में आपको यहाँ इस पोस्ट में माध्यम से कुछ उपयोगी जानकारी प्रदान करने जा रहे है . बात की जाए काजू के बारे में तो में आपको बताना चाहूँगा 'काजू' एक प्रकार का पेड़ होता है जिस का फल सूखे मेवे के रूप में खाने के लिए प्रयोग किया जाता है . काजू बहुत सारे पोषक तत्वों एवं औषधीय गुणों से भरपूर होता है . अक्सर आपने देखा होगा विभिन्न प्रकार की मिठाइयो एवं सब्जियों में काजू का प्रयोग किया जाता है जिससे न सिर्फ सब्जियों व मिठाइयो की सजावट होती है बल्कि इससे इनका स्वाद एवं गुणवत्ता की बढ़ जाती है . जैसे - 

      काजू खाने के  क्या - क्या फायदे है ?
      काजू में कितनी कैलोरी होती है ?

      काजू में कौन कौन से प्रमुख पोषक तत्व पाए जाते है ?
      काजू खाने का सही तरीका क्या है ?
      1 दिन में कितने काजू खाने चाहिये ? 

      सबसे पहले बात करते है काजू खाने से होने वाले फायदों के बारे में - नियमित रूप से काजू खाने से आपको अनेक फायदे होते है . जिनके बारे में हम यहाँ एक - एक करके आपको बतायेंगे -

      Read Also : Low Card Diet क्या है इससे वजन कैसे कम करे ?

      काजू खाने के  क्या - क्या फायदे है / Kashews Benefit And Nutrition In Hindi - 

      # काजू करता है कोलेस्ट्रोल को कम

      काजू प्रोटीन का अच्छा स्रोत होता है और इसमें Healthy Fat होती है . इसे खाने से कोलेस्ट्रोल लेवल कम होता है .

      # हड्डियां बनाता है मजबूत

      काजू में में मैग्नीशियम पाया जाता है जो हमारे शरीर की हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है . इसके नियमित सेवन से हमारी हड्डियाँ मजबूत बनती है . 

      # याददास्त तेज करने के लिए खाए काजू

      काजू के नियमित सेवन से हमरी स्मरण शक्ति यानि याददास्त तेज होती है . इसमें विटामिन B भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो की हमारे  पाचन तंत्र को सुचारू रूप से चलाने, शरीर को शक्ति प्रदान करने के लिए  बहुत ही फायदेमंद है . काजू के सेवन से यूरिक एसिड भी कम बनता है जिससे गठिया बाय होने का खतरा भी कम होता है .

      # पाचन प्रक्रिया में करता है सुधार

      इसमें एंटी ओक्सिडेंट पाये जाते है जो की पाचन प्रक्रिया को सुधारते है और पाचन शक्ति को मजबूत बनाते है .

      # तव्चा को बनाता है  सुन्दर एवं चमकदार

      काजू के सेवन से त्वचा सुन्दर एवं चमकदार बनती है . 

      # प्रोटीन का उत्तम स्रोत

      इसमें प्रति 100 ग्राम में लगभग 18 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है . यह प्रोटीन का बेस्ट फ़ूड है . 

      # पुरुषो के लिए बहुत फायदेमंद है काजू

      काजू के सेवन से पुरुषो की यौन शक्ति बढती है . इसके प्रयोग से पुरुष में  वीर्य की मात्रा बढती है तथा प्रजनन शक्ति में भी वृद्धि होती है.

      काजू में कितनी कैलोरी होती है ?

      अपने आपको हेल्थी एवं फिट रखने के लिए हमें पता होना चाहिए की हम क्या खा रहे है और इससे हमें कितने पोषक तत्व और कैलोरी यानी उर्जा प्राप्त हो रही है . यदि हम काजू की बात करे की इसमें कितनी कैलोरी होती है तो मै आपको बताना चाहूँगा प्रति 100 ग्राम  में 553 कैलोरी होती है .


      1 दिन में कितने काजू खाने चाहिये ?

      आप दिन में 5 - 10 काजू खा सकते है . ध्यान रहे यदि आपका वजन ज्यादा है और वजन कम कम कर रहे है तो दिन में सिर्फ 4-5 काजू ही खाए क्यूंकि इसमें कैलोरी अधिक होती जिससे आपका वजन बढ़ सकता है . 

      काजू  में कौन कौन से मुख्य पोषक तत्व पाए जाते है / Kashew Nutrition in Hindi ?

      प्रति 100 ग्राम काजू में निम्न पोषक तत्व पाए जाते है -

       Nutrition Value of Kashew (100gm) / प्रति 100 ग्राम काजू में पोषक तत्वों की मात्रा 
       Calorie 553
       Protein 18 ग्राम
       Carbohydrates 14 ग्राम
       Fat 44 ग्राम
       Saturated Fat 8 ग्राम
       Monounsaturated Fat 24 ग्राम
       Polyunsaturated Fat 8 ग्राम
       Minerals Amount
       Potassium 660 मिली ग्राम
       Magnishiam 292 मिली ग्राम
       Calcium 37 मिली ग्राम

      काजू खाने का सही तरीका क्या है ?

      आप काजू को भिगोकर  सुबह खली पेट खा सकते है . कम से कम 6 घंटे पहले रात में  इसको पानी में भिगोकर  रख दे और सुबह खली पेट खा ले इससे इसकी तासीर ठंडी हो जाती है और इसके गुणों में भी कोई कमी नही होती है . इस पारकर भिगोकर खाने से आप इसके सभी गुणों का लैब उठा सकते है .

      यदि इस पोस्ट में दी गई जानकारी "Kashews Benefit And Nutrition In Hindi " आपको अच्छी लगे तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले।  हो सकता है इस जानकारी की किसी और को भी आवश्यकता हो।  धन्यवाद। 

      जाने काजू खाने का सही तरीका , फायदे एवं गुण | Kashews Benefit And Nutrition In Hindi - जाने काजू खाने का सही तरीका , फायदे एवं गुण | Kashews Benefit And Nutrition In Hindi - Reviewed by Virendra Singh on April 21, 2019 Rating: 5

      जाने अखरोट खाने के फायदे | Walnuts Benefit And Nutrition In Hindi -

      April 20, 2019
      ड्राई फ्रूट यानी (सूखे मेवे) हमारी सेहत के लिए अच्छे होते है क्यूंकि इनमे भरपूर मात्रा में बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे शरीर के पोषण व प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए जरूरी होते है . आप ड्राई फ्रूट्स के रूप में बहुत सारे फ़ूड जैसे (बादाम , काजू , पिस्ता , अखरोट) आदि खाते होंगे . लेकिन क्या आप इनके सभी फायदे जानते है की इन फूड्स को खाने से आपको क्या क्या लाभ होता है और इन्हें किस प्रकार से खाना चाहिए और कितने मात्रा में खाना चाहिए . आज इसी क्रम में हम अखरोट यानि (Walnut) के बारे में आपको यहाँ इस पोस्ट में माध्यम से कुछ उपयोगी जानकारी प्रदान करने जा रहे है . जैसे - 

      Walnuts Benefit And Nutrition In Hindi


      अखरोट खाने के  क्या - क्या फायदे है ?
      हमें अखरोट क्यूँ खाने चाहिए ?
      अखरोट में कितनी कैलोरी होती है ?

      अखरोट में कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते है ?
      अखरोट खाने का सही तरीका क्या है ?
      1 दिन में कितने अखरोट खाने चाहिये ?

      सबसे पहले बात करते है अखरोट खाने के फायदों के बारे में -

      अखरोट खाने के फायदे क्या - क्या है / Walnuts Benefit And Nutrition In Hindi -

      # अखरोट खाने से होता है तेज दिमाग -
      अखरोट (Walnut) बहुत सारे पोषक तत्वों से भरपुर होते है . जैसे प्रोटीन , फाइबर , हेल्दी फैट , विटामिन्स आदि होते है . अखरोट खाने से दिमाग की स्मरण शक्ति में बढ़ोतरी होती है तथा प्रोटीन तथा कैल्शियम  की भरपुर मात्रा होने के कारण इससे हमारे शरीर को पूरा पोषण मिलता है एवं हमारी हड्डियां तथा मसल्स भी स्ट्रोंग बनी रहती है .
      Almonds Nutrition
      # कोलेस्ट्रोल , सुगर लेवल कम करने में फायदेमंद

      जिन लोगो का कोलेस्ट्रोल लेवल हाई होता है इन्हें भी अखरोट खाने से बहुत लाभ होता है इससे कोलेस्ट्रोल लेवल घटाने में फायदा मिलता है  तथा इसके सेवन से शुगर लेवल कण्ट्रोल करने में भी सहायता मिलती है .

      # वजन कम करने तथा मजबूत हड्डियों के लिए 

      यदि आप वजन घटाना चाह रहे है तो अखरोट का सेवन आपके लिए वरदान साबित होगा इससे आपको भूख कम लगेगी और आपको पेट भरा हुआ महसूस होगा जिससे आपको अपना बढ़ा हुआ वजन कम करने में आसानी होगी . अखरोट में फाइबर की भरपूर मात्रा पाई जाती है इसके सेवन से आपको ज्यादा भूख नही लगेगी और पेट भरा हुआ महसूस होगा जिससे आपको मोटापा कम करने में आसानी होगी .
      walnuts-benefit-and-nutrition-in-hindi

      # स्वस्थ हृदय के लिए करे अखरोट का नियमित सेवन 

      Walnuts - (अखरोट) का नियमित सेवन ह्रदय (दिल ) सम्बन्धी बीमारियों के खतरे को भी कम करता है . अखरोट का नियमित सेवन न करने वाले व्यक्तियों में इसका नियमित सेवन करने वाले व्यक्तियों को ह्रदयघात (Heart Attack) का खतरा 50 प्रतिशत कम होता है .
      Walnuts Nutrition

      # बेहतर रक्त संचार (Blood Circulation) के लिए 
      अखरोट  में पोटेशियम की भरपुर मात्रा पायी जाती है इससे हमारे शरीर का Blood Circulation (रक्त संचार) काफी अच्छा बना रहता है जिससे शरीर के प्रत्येक अंगो तक रक्त भरपूर मात्रा में पहुंचता है जिसके कारन प्रत्येक अंग को भरपूर मात्रा में आक्सीजन मिलती है . और सभी अंग सही तरीके से अपना कार्य करने में 100 प्रतिशत सक्षम बने रहते है
      # स्तन कैंसर से बचाव -

      इसके लगातार सेवन से ब्रेस्ट कैंसर से लड़ने में सहायता मिलती है . अनेक रिसर्च में बताया गया है की ब्रेस्ट कैंसर के मरीजो के लिए अखरोट का सेवन बहुत ही फायदेमंद है .

      अखरोट खाने के फायदे


      # पुरुषो में स्पर्म काउंट (शुक्राणु) की संख्या बढ़ाने में सहायक 
      अखरोट के नियमित सेवन से पुरुषो के वीर्य में शुक्राणुओं संख्या था क्वालिटी बेहतर होती है . जिन लोगो को (Low Sperm Count) की समस्या है उन्हें अखरोट का नियमित सेवन करना चाहिए .

      # अच्छी नींद व तनाव दूर करने के लिए  के लिए 
      इसके सेवन से नींद अच्छी आती है तथा तनाव दूर होता है .


      हमें अखरोट क्यूँ खाने चाहिए ?

      अखरोट के नियमित सेवन के द्वारा कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है जैसे - कोलेस्ट्रोल का बढ़ना , शुगर लेवल का ज्यादा होना , मोटापा , उच्च रक्तचाप , कैंसर , हार्ट अटैक आदि . इन सभी बीमारियों के खतरे को काफी कम किया जा सकता है यदि हम अखरोट का नियमित सेवन करे . इसलिए हमें अखरोट का नियमित सेवन करना चाहिये.

      Related Post -

              

      अखरोट में कितनी कैलोरी होती है ?

      अपने आपको हेल्थी एवं फिट रखने के लिए हमें पता होना चाहिए की हम क्या खा रहे है और इससे हमें कितने पोषक तत्व और कैलोरी यानी उर्जा प्राप्त हो रही है . यदि हम अखरोट की बात करे की इसमें कितनी कैलोरी होती है तो मै आपको बताना चाहूँगा प्रति 100 ग्राम अखरोट में 644 कैलोरी होती है .

      अखरोट में कौन कौन से मुख्य पोषक तत्व पाए जाते है / Walnuts Nutrition in Hindi ?

      प्रति 100 ग्राम अखरोट में निम्न पोषक तत्व पाए जाते है -

       Nutrition Value of Walnuts (100gm) / प्रति 100 ग्राम अखरोट में पोषक तत्वों की मात्रा 
       Calorie 644
       Protein 15 ग्राम
       Carbohydrates 14 ग्राम
       Fat 65 ग्राम
       Saturated Fat 6 ग्राम
       Monounsaturated Fat 9 ग्राम
       Polyunsaturated Fat 47 ग्राम
       Minerals Amount
       Potassium 441 मिली ग्राम
       Sodium 2 मिली ग्राम
       Calcium 98 मिली ग्राम

      अखरोट खाने का सही तरीका क्या है ?

      आप सुबह खाली पेट या दोपहर के खाने के बाद तथा शाम के खाने से पहले अखरोट  खा सकते  है गर्मियों में अखरोट को पानी में  भिगोकर जबकि सर्दियों में बिना भिगोये खा सकते है . हालाँकि सुबह खली पेट भीगे हुए अखरोट खाना ज्यादा फायदेमंद रहता है .

      1 दिन में कितने अखरोट खाने चाहिये ?

      एक स्वस्थ व्यक्ति  दिन में मुट्ठी भर अखरोट खा सकता है .


      यदि इस पोस्ट में दी गई जानकारी "Walnuts Benefit and Nutrition In Hindi " आपको अच्छी लगे तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले।  हो सकता है इस जानकारी की किसी और को भी आवश्यकता हो।  धन्यवाद। 

      जाने अखरोट खाने के फायदे | Walnuts Benefit And Nutrition In Hindi - जाने अखरोट खाने के फायदे | Walnuts Benefit And Nutrition In Hindi - Reviewed by Virendra Singh on April 20, 2019 Rating: 5

      Almonds Nutrition In Hindi | बादाम खाने के फायदे एवं पोषक तत्वों और कैलोरी की मात्रा की जानकारी -

      April 11, 2019
      हम सभी लोग बचपन से आज तक अपने बड़ो से अक्सर  सुनते आ रहे है की बादाम (Almonds) खाने से दिमाग तेज होता है और सर्दी से बचाता है . क्या बादाम खाने से दो ही फायदे है  सिर्फ दिमाग तेज  और सर्दी से बचाव . जी नही यह धारणा पूरी सही नही है क्यूंकि बादाम खाने के केवल यही फायदे नही है बल्कि  बादाम खाने के ढेरो फायदे है जिनके बारे में हम यहाँ जानेगें - आज यहाँ पर हम बात करेंगे जैसे -


      बादाम खाने के  क्या - क्या फायदे है ?
      हमें बादाम क्यूँ खाने चाहिए ?
      बादाम में कितनी कैलोरी होती है ?
      बादाम में कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते है ?
      बादाम खाने का सही तरीका क्या है ?
      1 दिन में कितने बादाम खाने चाहिये ?

      सबसे पहले बात करते है बादाम खाने के फायदों के बारे में -

      बादाम खाने के फायदे क्या - क्या है ?

      बादाम (Almonds) बहुत सारे पोषक तत्वों से भरपुर होते है . जैसे प्रोटीन , फाइबर , हेल्दी फैट , विटामिन्स आदि होते है . बादाम खाने से दिमाग की स्मरण शक्ति में बढ़ोतरी होती है तथा प्रोटीन तथा कैल्शियम  की भरपुर मात्रा होने के कारण इससे हमारे शरीर को पूरा पोषण मिलता है एवं हमारी हड्डियां तथा मसल्स भी स्ट्रोंग बनी रहती है .

      Almonds Nutrition


      जिन लोगो का कोलेस्ट्रोल लेवल हाई होता है इन्हें भी बादाम खाने से बहुत लाभ होता है इससे कोलेस्ट्रोल लेवल घटाने में फायदा मिलता है  तथा इसके सेवन से शुगर लेवल कण्ट्रोल करने में भी सहायता मिलती है .

      यदि आप वजन घटाना चाह रहे है तो बादाम का सेवन आपके लिए वरदान साबित होगा इससे आपको भूख कम लगेगी और आपको पेट भरा हुआ महसूस होगा जिससे आपको अपना बढ़ा हुआ वजन कम करने में आसानी होगी .
      Almonds Nutrition In Hindi

      बादाम (Almonds) का नियमित सेवन ह्रदय (दिल ) सम्बन्धी बीमारियों के खतरे को भी कम करता है . बादाम का नियमित सेवन न करने वाले व्यक्तियों में इसका नियमित सेवन करने वाले व्यक्तियों को ह्रदयघात (Heart Attack) का खतरा 50 प्रतिशत कम होता है .

      Almonds Nutrition


      बादाम में पोटेशियम की भरपुर मात्रा पायी जाती है इससे हमारे शरीर का Blood Circulation (रक्त संचार) काफी अच्छा बना रहता है जिससे शरीर के प्रत्येक अंगो तक रक्त भरपूर मात्रा में पहुंचता है जिसके कारन प्रत्येक अंग को भरपूर मात्रा में आक्सीजन मिलती है . और सभी अंग सही तरीके से अपना कार्य करने में 100 प्रतिशत सक्षम बने रहते है .

      Almonds Nutrition


      इसके लगातार सेवन से ब्रेस्ट कैंसर से लड़ने में सहायता मिलती है . अनेक रिसर्च में बताया गया है की ब्रेस्ट कैंसर के मरीजो को सुबह से समय भिगोये हुए बादाम का सेवन करना चाहिये .


      हमें बादाम क्यूँ खाने चाहिए ?

      बादाम के नियमित सेवन के द्वारा कई प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है जैसे - कोलेस्ट्रोल का बढ़ना , शुगर लेवल का ज्यादा होना , मोटापा , उच्च रक्तचाप , कैंसर , हार्ट अटैक आदि . इन सभी बीमारियों के खतरे को काफी कम किया जा सकता है यदि हम बादाम का नियमित सेवन करे . इसलिए हमें बादाम का नियमित सेवन करना चाहिये.

      Related Post -

      बादाम में कितनी कैलोरी होती है ?

      अपने आपको हेल्थी एवं फिट रखने के लिए हमें पता होना चाहिए की हम क्या खा रहे है और इससे हमें कितने पोषक तत्व और कैलोरी यानी उर्जा प्राप्त हो रही है . यदि हम बादाम की बात करे की इसमें कितनी कैलोरी होती है तो मै आपको बताना चाहूँगा प्रति 100 ग्राम बादाम में 576 कैलोरी होती है .

      बादाम में कौन कौन से मुख्य पोषक तत्व पाए जाते है / Almonds Nutrition in Hindi ?

      प्रति 100 ग्राम बादाम में निम्न पोषक तत्व पाए जाते है -

       Nutrition Value of Almonds (100gm) / प्रति 100 ग्राम बादाम में पोषक तत्वों की मात्रा 
       Calorie 576 
       Protein 21 ग्राम
       Carbohydrates 22 ग्राम
       Fat 49.9 ग्राम
       Saturated Fat 3.8 ग्राम
       Monounsaturated Fat 31.6 ग्राम
       Polyunsaturated Fat 12.3 ग्राम
       Minerals Amount
       Potassium 705 मिली ग्राम
       Sodium 1 मिली ग्राम
       Calcium 264 मिली ग्राम

      बादाम खाने का सही तरीका क्या है ?

      आप सुबह खाली पेट या दोपहर के खाने के बाद तथा शाम के खाने से पहले बादाम  खा सकते  है गर्मियों में बादाम को पानी में  भिगोकर जबकि सर्दियों में बिना भिगोये खा सकते है .

      1 दिन में कितने बादाम खाने चाहिये ?

      एक स्वस्थ व्यक्ति  दिन में मुट्ठी भर बादाम खा सकता है .


      यदि इस पोस्ट में दी गई जानकारी "Almonds Nutrition In Hindi " आपको अच्छी लगे तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले।  हो सकता है इस जानकारी की किसी और को भी आवश्यकता हो।  धन्यवाद। 


      Almonds Nutrition In Hindi | बादाम खाने के फायदे एवं पोषक तत्वों और कैलोरी की मात्रा की जानकारी - Almonds Nutrition In Hindi | बादाम खाने के फायदे एवं पोषक तत्वों और कैलोरी की मात्रा की जानकारी - Reviewed by Virendra Singh on April 11, 2019 Rating: 5

      Jio Number की Call Divert / Forward कैसे करे | How To Divert / Forward Jio Number Calls To Another Number -

      April 07, 2019
      स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग www.upyogijankari.com पर यहाँ पर हम विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों से सम्बंधित उपयोगी जानकारियाँ आप लोगो के साथ साझा करते है . आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताने वाले है कैसे आप अपने JIO नंबर पर आने वाली Incoming Calls को Other Numbers पर (किसी भी अन्य ऑपरेटर जैसे Airtel , Vodafone , Idea , BSNL या फिर JIO के अन्य नंबर) पर बिना किसी अतिरिक्त चार्ज के Divert यानि स्थानांतरित कर सकते है .

      Jio Number की Call  Divert / Forward  कैसे करे

      JIO Call Forwarding / Divert Option -


      JIO द्वारा आपको Call Divert / Forward करने के लिए चार Option दिए जाते है   -

      • Unconditional Call Forwarding.
      • No Answer Call Forwarding.
      • Busy 
      • Not Reachable .
      यदि आप अपने JIO नंबर पर आने वाली सभी कॉल्स को किसी दुसरे Number पर Forward करना चाहते है तो आपके लिए बेस्ट आप्शन होगा "Unconditional Call Forwarding" का क्यूंकि इससे आपकी सभी आने वाली  कॉल्स उस नंबर पर जाएँगी जिस पर आप Forward करना चाहते है बिना किसी कंडीशन के .


      अब बात आती है "No Answer Call Forwarding." की इस आप्शन का use केवल तब करे जब आप केवल काल्स का आंसर न दे पाने की स्थिति में ही Call Other नंबर पर फॉरवर्ड करना चाहते है .

      "Busy" आप्शन का use करने पर केवल उस कंडीशन में कॉल फॉरवर्ड की जाएगी जब आपका नंबर किसी अन्य कॉल्स पर Busy होगा.

      "Not Reachable" वाली कंडीशन में केवल तब कॉल फॉरवर्ड की जाएगी जब आपका नुबेर Network Coverage में नही होगा .

      Jio Number की Call अन्य Number पर Divert / Forward कैसे करे -

      • Unconditional Call Forwarding (Activate) - अपने Jio Number पर Unconditional Call Forwarding Activate करने के लिए अपने JIO नंबर से Dial करे ' *401*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      • Unconditional Call Forwarding (Deactivate) - अपने Jio Number पर Unconditional Call Forwarding Deactivate करने के लिए अपने JIO नंबर से Dial करे ' *402*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      • No Answer Call Forwarding (Activate) - अपने Jio Number पर No Answer Call Forwarding Activate करने के लिए अपने JIO नंबर से Dial करे ' *403*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      • No Answer Call Forwarding (Deactivate) - अपने Jio Number पर No Answer Call Forwarding Deactivate करने के लिए अपने JIO नंबर से Dial करे ' *404*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 

      • Busy Call Forwarding (Activate) - अपने JIO नंबर से Dial करे ' *405*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      • Busy Call Forwarding (Deactivate) - अपने JIO नंबर से Dial करे ' *406*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      • Not Reachable Call Forwarding (Activate) -  अपने JIO नंबर से Dial करे ' *409*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      • Not Reachable Call Forwarding (Deactivate) -  अपने JIO नंबर से Dial करे ' *410*10 डिजिट मोबाइल नंबर ' और कॉल बटन को दबाएँ. 
      आशा करते है इस पोस्ट में दी गयी जानकारी " Jio Number की Call  Divert / Forward  कैसे करे
      " उपयोगी सिद्ध हुई होगी . यदि आपको अपने JIO Number पर कॉल फॉरवर्ड करने में परेशानी हो रही है तो आप हमें कमेंट के माध्यम से अपना सवाल पूछ सकते है . हम आपकी सहायता अवश्य करेंगें.

      Read Also -


        Jio Number की Call Divert / Forward कैसे करे | How To Divert / Forward Jio Number Calls To Another Number - Jio Number की Call  Divert / Forward  कैसे करे | How To Divert / Forward Jio Number Calls To Another Number - Reviewed by Virendra Singh on April 07, 2019 Rating: 5
        Powered by Blogger.